यह पौधा आपके घर में होना ही चाहिए -एलोवेरा Benefits of aloe-vera in hindi

0
106
Benefits of aloe-vera

आज हम इस लेख में एलो-वेरा के बारे में जानेंगे। कि इसके सेवन से हमे क्या – क्या फायदे होता है। यह हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत ही लाभकारी मन जाता है। इसके चमत्कारी गुणों के बारे में जानने के लिए आप इस लेख को पूरा पढ़ना। इससे आपको बहुत अधिक फायदा होगा। Benefits of aloe-vera in hindi

benefits of aloe vera in hindi
Image Source Google

एलो-वेरा से ठीक होने वाली बीमारियां- कैंसर, कब्ज, ह्दय रोग, दाँत रोग, पेट रोग, मधुमेह, घाव, जलन,मोटापा, सर्दी से बचाव, बालों के लिए, त्वचा रोग के लिए, खून की कमी को करे दूर, उम्र, दिल रोग, सिर दर्द, पीलिया, झुर्रिया और कोलेस्ट्रॉ आदि रोगों से छुटकारा मिल जाता है। इसलिए एलोवेरा को संजीवनी बूंटी का नाम दिया गया है।

एलोवेरा

एलो-वेरा एक चमत्कारी औषधि के ररूप में जाना जाता है। इसका प्रयोग प्राचीन काल से ही करते आए है। यह एक तरह संजीवनी बूंटी का काम करता है। इससे कई रोगों के इलाज संभव है। यह दिखने में कांटेदार और हरा होता है। इसके कई अन्य नाम भी है। जैसे – ग्वारपठा व धृतकुमारी । इसके अलवा इसके गुणों के कारण इसको चमत्कारी पौधा भी कहा जाता है। एलोवेरा की 200 से अधिक प्रजातिया पाई जाती है। इनमेसे एलोवेरा का रस बहुत महत्वपूर्ण होता है। इसमें अनेक प्रकार के रसायनिक तत्व ओर गुण पाए जाते है।

एलोवेरा के फायदे (Benefits of aloe-vera in hindi)

यह एक गुणकारी और चमत्कारी पौधा है। इसके निम्नलिखित फायदे है।

Image Source Google

मधुमेह से लड़े

जिस व्यक्ति को मधुमेह की बीमारी है। उसके लिए एलोवेरा का जूस बहुत ही लाभदायक है। इसके लिए आप 10 ग्राम करेले का रस और 10 ग्राम एलो-वेरा का रस लें। इसको प्रतिदिन मिलाकर सेवन करने से डायबिटीज जड़ से खत्म हो जाती है। साथ – ही 20 ग्राम आंवले से रस में 10 ग्राम एलो-वेरा का रस मिलाकर प्रतिदिन सेवन करने से शूगर की बीमारी भी ठीक हो जाती है।

कैंसर

एलोवेरा के जूस का सेवन प्रतिदिन करते रहने से कैंसर का रोग जड़ से खत्म हो जाता है। एलो-वेरा में ऐसे चमत्कारी रसायनिक तत्व और गुण पाए जाते है। जो कैंसर जैसे खतरनाक रोग से लड़ने की क्षमता रखते है।

बालों के लिए

  • आजकल बालों की समस्या निंरतर बढ़ती जा रही है। किसी के बाल सफेद हो रहे है। तो किसी के बाल झड़ रहे है। इसके अलावा बालों की अनेक समस्याएं उतपन होती है। इसके लिए आपको सिर्फ आधा घंटा एलो-वेरा जल लगाना है। इसके बाद आप उसको धो लें। ऐसा आप महीने में तीन से चार बार जरूर करे। आपको बहुत अधिक फायदा होगा।
  • एक कप एलोवेरा का रस लें। उसमे एक चम्मच निम्बू डालकर मिलाएं। अब इसको बालों में अच्छी तरह से लगाएं। और 15 – 20 मिनट बाद इसको धो लें। ऐसा करने से आपके बाल मजबूत, घने और चमकने लगेंगे। यह प्रक्रिया सप्ताह में एक बार जरूर करनी चाहिए।

रक्त प्रभाव को रोकने में सहायक

जब कोई व्यक्ति घायल हो जाता है। या अन्य स्थिति में उसके शरीर से रक्त बहने लगता है। तो एलो-वेरा का रस घाव या चोट पर लगाने से रक्त का प्रभाव रुक जाता है।

त्वचा रोग के लिए

एलोवेरा के रस को त्वचा पर लगाने से त्वचा संबंधी रोग ठीक हो जाते है। इससे गहरे घाव भी भर के ठीक हो जाते है।

झुर्रियां और फुंसी

चेहरे पर झुर्रियां और फुंसी हो जाने पर एलो-वेरा के रस का प्रयोग करे। रात को सोने से पहले अपने चेहरे को साफ पानी से धोकर एलोवेरा रस मुँह पर लगाएं। इससे आप का चेहरा बिल्कुल साफ और स्वस्थ रहेगा। इसके साथ आप एलो-वेरा जूस भी पी सकते है।

खून की कमी

एलोवेरा का जूस प्रतिदिन सुबह लगातार पिने से खून की कमी दूर हो जाती है। इससे शरीर में रक्त की सफाई भी होती है। यह हमारे शरीर को मजबूत और स्वस्थ रखता है। यह खून की कमी को दूर करके रोग – प्रतिरोधक की क्षमता को बढ़ाता है।

सफाई

यह हमारे शरीर के अंदरूनी हिस्सों की सफाई करता है। जैसे की नस, नदिया। यह इनकी सफाई करके शरीर को रोगाणु मुक्त रखने में मदद करता है।

शुध्द

एलोवेरा का कोई साइड – इफेक्ट नहीं होता है। इसका प्रयोग कोई भी व्यक्ति कभी भी और कहीं पर कर सकता है। यह हमारे शरीर में हीमोग्लोबिन की कमी को पूरा करता है। और रक्त को भी शुध्द करता है। यह हमारे शरीर में ब्लड सेल्स की संख्या को बढ़ाता है

उम्र

एलो-वेरा का प्रतिदिन और लगातार प्रयोग करने से शरीर स्वस्थ रहता है। और व्यक्ति की उम्र भी बढ़ती है। इसका बहुत फायदा होता है। इसलिए प्रत्येक व्यक्ति को एलोवेरा जूस पीना चाहिए।

दांतो के लिए

एलोवेरा जूस दांतो को साफ स्वस्थ और रोगाणुमुक्त रखता है। इसका प्रयोग माउथ फ्रेशनर के तोर पर भी इस्तेमाल किया जाता है। एलो-वेरा जूस को मुँह में भरने से मुँह के छाले और बहने वाला रक्त रुक जाता है। यह हमारे दांतो को मजबूत रखता है। और कीड़ो से बचाता है।

पीलिया

जो व्यक्ति या बच्चा पीलिया रोग से ग्रसित है। उसको तीन से चार दिन लगातार दिन में 2 – 3 बार एलोवेरा जूस पिलायें। इससे रोगी को बहुत अधिक फायदा होता है। ध्यान रखना की एलो-वेरा जूस देने से पहले एक बार डॉक्टर से जरूर पूछ लें। Benefits of aloe-vera in hindi

आप एलोवेरा जूस, क्रीम आदि अपने घर बैठे भी मगवा सकते हो।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here